जीवन से जुड़े कुछ अनमोल तथ्य जरुर पढ़ें | अनमोल वचन | सुविचार

जीवन से जुड़े कुछ अनमोल तथ्य जरुर पढ़ें  | अनमोल वचन by Latest Indians News


जीवन से जुड़े कुछ अनमोल तथ्य - Latest Indians News
जीवन से जुड़े कुछ अनमोल तथ्य

हुनर, लगन, और मेहनत;
ये तीन ऐसी चीज़े हैं जो
फ़क़ीर को राजा,
मिटटी को सोना,
और कोयले को हिरा बना सकती है !

________________________________________________

परिवार का मतलब हम दो हमारे दो ही नहीं होता बल्कि,
इसमें माँ-बाप का भी साथ आता है family का अर्थ है-  
F - Father, A - and, M - Mother, i - I, L -love, Y -You.
माँ-बाप से ही घर पूरा होता है !

________________________________________________

भूल हो जाने से घबराना नहीं चाहिए क्योंकि,  
भूल उन्ही से होती है जो कुछ करने की कोशिश करते है |

________________________________________________

(दुःख)

अगर कोई कुत्ता तुम्हारा पिछा करे और तुम डर कर भागो तो वह तुम पर चढ़ जायेगातुम्हे काट लेगा और अगर तुम हिम्मत से खड़े हो जाओ तो वह डर जायेगापीछे हट जाएगा | दुःख भी एक कुत्ता ही है | इससे डरकर भागोगे तो यह तुम्हारा पीछा करेगा और डटकर खड़े हो जाओगे तो वह खुद डर जाएगा | जो डर गया समझो वह मर गया | जो डट गया समझो वह जीत गया हो गया |

________________________________________________

अँधेरा चाहे कितना भी गहरा क्यों न हो,
अगर आपके हाथ में दिया है तो अँधेरे से डरने की जरुरत नहीं |,
दिल से की गई प्रार्थनाए अवश्य ही फलीभूत होती है |
पर प्रार्थना के साथ प्रयत्न भी करना चाहिए !

________________________________________________

खुद खाना तन का सुख है दूसरों को खिलाना मन का सुख है |
खाया हुआ तो बेकार हो सकता है लेकिन दिया हुआ कभी बेकार नहीं जाता !

________________________________________________

आज का सबसे बड़ा रोग?


लोग क्या कहेंगे- यह इस युग की सबसे बड़ी बीमारी है लोग क्या कहेंगे? -यह सोचकर आदमी कुछ नहीं करता | न हँसता हैन रोता है | कुछ करता हैतो भी यही सोचता है की लोग क्या कहेंगे? | और तुम्हे क्या पता होना चाहिए दुनिया तो यो भी कहेगी और त्यों भी कहेगी तुम निचे देखकर चलोगे तो कहेगी - अब तो किसी के सामने देखता तक नहीं है उपर देखकर चलोगे तो कहेंगे- कैसी अकड़ में चलता है चारों और देखकर चलोगे तो कहेगी - इसकी आँखों का कोई ठिकाना नहीं है बंद करके बैठोगे तो कहेगी- बड़ा ध्यानी बन रहा है- बगुला-भगत | आँख फोड़ लोगो तो कहेगी - किया है तो भुगतो | दुनिया क्या कहती है इसकी चिंता मत करो | बढे चलो-चले चलो |  
Share on Google Plus

About Unknown

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 Comments:

Post a Comment

Thankyou to Comment in my blog