Karnataka election 2018: का चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के लिए है बड़ी मुसीबत

Karnataka election 2018: का चुनाव में  बीजेपी के लिए बड़ी मुसीबत 



चाहे आप भारत के किसी भी जगह रह रहे हो हर जागे सिर्फ एक ही चर्चा चल रहा है वो है कर्नाटक का चुनाव आप कर्नाटक  में रह रहे हो या किसी भी सहर में हर किसी के जबान पर सिर्फ एक ही चर्चा है कर्नाटक के चुनाव का है आखिर ये इतना महत्वपूण क्यों है क्यों की कर्नाटक का जो चुनाव है वो 2019 में लोकसभा का चुनाव सब के लिए बहुत महत्वपूर्ण है क्यों की 2019 में फिर प.म. का चुनाव होगा




कर्नाटक में जो रह रहे है उनकी दिलचस्पी इसलिए बढ़ रही है क्यों की वो अपने शहर के लिए एक नया सर्कार का चयन करेंगे 2019 का चुनाव जो की एक साल बाद होने वाली है उसमे कांग्रेस तथा बीजेपी के लिए बहुत महत्वपूर्ण होने वाला है,
क्यों की एस चुनाव के बाद देश में और 2019 का नया व असली हवा चलेगा क्यों की यदि कांग्रेस ये चुनाव जित जाती है तो कांग्रेस के लिए ये लोटरी लगने जैसा साबित होगा और अगर बीजेपी ये चुनाव हार जाती है तो उसके लिए आगे के लिए उसकी मुश्किले बढ़ जाएगी और इसे नरेन्द्र मोदी के लोकप्रियता से जोड़ा जायेगा 






कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी और कांग्रेस की लड़ाई में तेजी हो गयी है क्यों की 12 मई को इसका चुनाव होने को है जो की जयादा दिन नहीं है नरेन्द्र मोदी ने कर्नाटक में 3  से भी ज्यादा रैली निकली है और कांग्रेस को नरेन्द्र मोदी ने रविवार के चित्रदुर्गा में एक रैली में उन्होंने कांग्रेस पर समाज को बताने का सरयंत रचने का आरोप लगाया और ये भी बोले की राहुल गाँधी ने अपनी जित के लिए सोनिया गाँधी को भी अपने साथ बुलाया है



और बीजेपी के पार्टी अमित शाह ने भी कुछ कसर नहीं छोड़ी उन्होंने भी एक रैली में मुख्यमंत्री पर किशन बिरोध होने का आरोप लगाया.
नरेन्द्र मोदी का तिन सार्वजानिक बैठके होने की  सम्भावना है इलेक्शन का दिन 12 मई के लिए किया गया है और वोट की गिनती 15 मई को किया गया है |
Share on Google Plus

About Daily Sant Suvichar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.